Home Hindi सलमान खुर्शीद ने कहा- ऐसा भी नहीं कि अभी पार्टी अध्यक्ष नहीं...

सलमान खुर्शीद ने कहा- ऐसा भी नहीं कि अभी पार्टी अध्यक्ष नहीं चुना तो आसमान टूट पड़ेगा, नेतृत्व पर फैसला सोनिया को ही करना चाहिए

4
0

वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि पार्टी में लीडरशिप के मुद्दे का फैसला सोनिया गांधी को ही करना चाहिए। खुर्शीद ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष चुनने की तुरंत ऐसी जरूरत नहीं दिखती कि ऐसा नहीं हुआ तो आसमान टूट पड़ेगा। सोनिया गांधी अभी संचालन कर रही हैं और लीडरशिप के मुद्दे पर फैसला सोनिया गांधी को ही करना चाहिए।

पिछले हफ्ते हुई सीडब्ल्यूसी की बैठक में सोनिया गांधी को ही अंतरिम अध्यक्ष के पद पर बनाए रखने का फैसला किया गया था। हालांकि, सीडब्ल्यूसी ने कहा था कि 6 महीने के भीतर पार्टी के नए अध्यक्ष का चुनाव कर लिया जाएगा।

“मुझसे संपर्क भी करते, तो भी मैं चिट्ठी पर दस्तखत नहीं करता’
खुर्शीद ने पीटीआई को दिए इंटरव्यू में कहा कि जिन लोगों ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी कि पार्टी में ऊपर से नीचे तक बदलाव होना चाहिए, उन्होंने अगर मुझसे लेटर पर साइन करने के लिए संपर्क किया होता तो भी मैं ऐसा नहीं करता। जिन लोगों ने चिट्ठी लिखी वो सोनिया गांधी तक पहुंच रखते हैं और उन्हें चिट्ठी लिखने की बजाय सोनिया गांधी से मुलाकात करनी चाहिए थी। जम्मू-कश्मीर के वरिष्ठ नेता (गुलाम नबी आजाद) पार्टी के शीर्ष पदों पर सालों तक रहे हैं और उस वक्त भी जब ऐसे चुनाव नहीं हुए और तब भी पार्टी आगे बढ़ी है।

पार्टी के 23 नेताओं ने सोनिया को चिट्ठी लिखकर पार्टी में बदलाव की मांग की थी, ये चिट्ठी सीडब्ल्यूसी की बैठक से ऐन पहले लिखी गई थी। इसके बाद गुलाम नबी आजाद ने गुरुवार को कहा था कि अगर कांग्रेस में प्रमुख पदों पर चुनाव नहीं किए गए तो कांग्रेस को 50 साल तक विपक्ष में बैठना पड़ेगा।

“अंतरिम अध्यक्ष सोनिया को कोई साधारण शख्स नहीं हैं’
खुर्शीद ने कहा कि मेरे जैसे लोगों की बात करें तो हमारे पास नेता हैं। हमारे पास सोनिया गांधी हैं, राहुल गांधी हैं। ऐसे में मुझे पार्टी लीडर चुने जाने की कोई तात्कालिक जरूरत नजर नहीं आती। एक अध्यक्ष का चुनाव, जब होना होगा, तब होगा। मुझे नहीं लगता कि आसमान टूट रहा है।

उन्होंने कहा कि मुझे अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है कि ऐसी जल्दबाजी की जरूरत इसमें क्यों आन पड़ी। हमारे पास कोई पार्ट टाइम प्रेसिडेंट नहीं है, फुल टाइम प्रेसीडेंट है और वो कोई साधारण व्यक्ति नहीं है। सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष हैं और कांग्रेस में सबसे लंबे वक्त तक अध्यक्ष रहने वाली शख्स हैं। हमें उन पर ही यह फैसला छोड़ना चाहिए कि वो कदम कब उठाती हैं।

ये भी पढ़ सकते हैं…

1. पार्टी नेता गुलाम नबी आजाद बोले- कांग्रेस में प्रमुख पदों पर चुनाव नहीं हुए तो 50 साल तक विपक्ष में ही बैठे रहेंगे

2. गुलाम नबी आजाद ने कहा- लेटर लीक हो गया तो इसमें क्या बड़ी बात हो गई, यह कोई सीक्रेट नहीं

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि मुझे अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि ऐसी जल्दबाजी की जरूरत इसमें क्यों आन पड़ी। (फाइल फोटो)