Home Hindi यूएस ने मोबाइल फोन जैसी वस्तुओं के इंपोर्ट पर टैरिफ का फैसला...

यूएस ने मोबाइल फोन जैसी वस्तुओं के इंपोर्ट पर टैरिफ का फैसला टाला, एपल का शेयर 4% उछला

102
0

वॉशिंगटन. अमेरिका ने चाइनीज इंपोर्ट पर 1 सितंबर से प्रस्तावित टैरिफ के दायरे से मोबाइल फोन, लैपटॉप और दूसरी उपभोक्ता वस्तुओं फिलहाल बाहर कर दिया है। इन वस्तुओं पर अब 15 दिसंबर से टैरिफ लागू होगा। इस ऐलान से एपल के शेयर में 4.2% तेजी आई। क्योंकि, इसके आईफोन, टैबलेट और लैपटॉप जैसे प्रोडक्ट साढ़े तीन महीने के लिए टैरिफ से बच जाएंगे।

  1. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को कहा कि क्रिसमस शॉपिंग सीजन में प्रोडक्ट महंगे न हों और कंज्यूमर गुड्स कंपनियों की बिक्री न घटे इसलिए टैरिफ टालने का फैसला लिया। ट्रम्प ने पिछले दिनों ऐलान किया था कि 300 अरब डॉलर के अतिरिक्त चाइनीज इंपोर्ट पर 1 सितंबर से 10% टैरिफ लगाएंगे।

  2. रॉयटर्स के मुताबिक टैरिफ टालने के फैसले से 300 अरब डॉलर के चाइनीज इंपोर्ट में से करीब 50% इंपोर्ट को फायदा होने की उम्मीद है। चीन से आयात जिन वस्तुओं पर अमेरिका 15 दिसंबर से टैरिफ लगाएगा उनकी वैल्यू पिछले साल 156 अरब डॉलर थी।

  3. चीन ने वाणिज्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि उसके वाइस प्रीमियर लियु ने अमेरिका के अधिकारियों से फोन पर बात की। लियु अगले दो हफ्ते में अमेरिका से फिर से फोन पर वार्ता के लिए भी सहमत हैं। चीन के इस बयान के बाद अमेरिका ने टैरिफ टालने के फैसले का ऐलान किया। ट्रम्प ने कहा कि दोनों पक्ष सितंबर में मुलाकात कर सकते हैं।

  4. अमेरिका-चीन के बीच पिछले साल मार्च से ट्रेड वॉर चल रहा है। दोनों देश एक-दूसरे के अरबों डॉलर के आयात पर शुल्क लगा चुके हैं। पिछले साल नवंबर में वार्ता शुरू हुई लेकिन, इस साल अप्रैल में टूट गई। पिछले दिनों जी-20 में ट्रम्प और जिनपिंग मिले तो फिर से वार्ता शुरू हुई लेकिन, ट्रम्प का कहना है कि वे अब डील होने तक का इंतजार नहीं कर सकते।

    DBApp

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      एपल स्टोर में सीईओ टिम कुक (फाइल)