Home Hindi पूर्वी लद्दाख में 75 दिन बाद फिर तनाव: 29 अगस्त की रात...

पूर्वी लद्दाख में 75 दिन बाद फिर तनाव: 29 अगस्त की रात चीनी सेना ने घुसपैठ की कोशिश की, भारत ने नाकाम किया

8
0

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा। गलवान झड़प के 75 दिन बाद फिर उसने यथास्थिति का उल्लंघन किया है। सेना के मुताबिक, 29 अगस्त की रात चीनी सेना ने पूर्वी लद्दाख के भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश की। भारतीय जवानों ने चीनी सैनिकों की इस कोशिश को नाकाम कर दिया। भारत ने इसे यथास्थिति (Status Quo) का उल्लंघन बताया है।

भारत ने यह भी कहा कि हमारी सेना बातचीत के जरिए शांति कायम करने के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन हम अपनी सीमाओं की सुरक्षा करना जानते हैं। इस मुद्दे को सुलझाने के लिए चुशूल में ब्रिगेड कमांडर लेवल की बातचीत भी हो रही है। 15 जून को लद्दाख के गलवान में चीन और भारत के सैनिकों में हिंसक झड़प हुई थी, जिसमें हमारे 20 जवान शहीद हो गए थे।

बातचीत से कोई हल नहीं निकला
गलवान झड़प के बाद लद्दाख में विवादित इलाकों से सैनिक हटाने के लिए भारत-चीन के आर्मी अफसरों के बीच 2 बार मीटिंग हो चुकी हैं। ये बैठकें 30 जून और 8 अगस्त को चीन के इलाके में पड़ने वाले मॉल्डो में हुई थीं, लेकिन इसका कोई खास नतीजा सामने नहीं आया।

चीन 3 इलाकों से पीछे नहीं हट रहा
आर्मी और डिप्लोमैटिक लेवल की कई राउंड की बातचीत के बावजूद चीन पूर्वी लद्दाख के फिंगर एरिया, देप्सांग और गोगरा इलाकों से पीछे नहीं हट रहा। चीन के सैनिक 3 महीने से फिंगर एरिया में जमे हुए हैं। अब उन्होंने बंकर बनाने और दूसरे अस्थायी निर्माण करने भी शुरू कर दिए हैं।

सीडीएस रावत बोले थे- चीन नहीं माना तो सैन्य विकल्प तैयार
भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने हाल ही में बड़ा बयान दिया था। रावत ने कहा था, ‘‘चीन के साथ बातचीत से विवाद नहीं सुलझा तो सैन्य विकल्प भी खुला है। हालांकि, शांति से समाधान तलाशने की कोशिशें की जा रही हैं। आर्मी से लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) के आस-पास अतिक्रमण रोकने और इस तरह की कोशिशों पर नजर रखने के लिए कहा गया है। (पूरी खबर पढ़ें)

भारत-चीन विवाद को लेकर आप ये खबरें भी पढ़ सकते हैं…

1. भारत ने चीन के सुझाव को ठुकराया; चीन ने लद्दाख में फिंगर एरिया से दोनों देशों की सेनाएं बराबरी से पीछे हटाने का सुझाव दिया था

2. भारत-चीन तनाव:सीमा विवाद के समाधान को लेकर चीन गंभीर नहीं; भारत ने कहा- तनाव खत्म करने के लिए पूर्वी लद्दाख में पहले जैसी स्थिति बहाल हो

3. लद्दाख सीमा विवाद:भारत-चीन के बीच जॉइंट सेक्रेटरी लेवल की बातचीत हुई; कम्प्लीट डिसएंगेजमेंट और मामले को तेजी से हल करने पर सहमति बनी

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Tension again in East Ladakh after 75 days: Chinese army tried to infiltrate on the night of 29 August, India failed